लॉकडाउन 4.0 का हुआ ऐलान, जानें क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

देशभर में कोरोना वायरस से मरने वाले लोगों की संख्या 2,852 और संक्रमितों की संख्या 90,927 पर पहुंच गई है. पिछले 24 घंटों में 103 लोगों ने इस बीमारी से जान गंवाई और संक्रमण के 3,970 नए मामले सामने आए. ऐसे में देशभर में NDMA ने लॉकडाउन 4 लागू कर दिया है और इसकी मियाद को बढ़ाकर 31 मई तक कर दिया गया है. देश में लॉकडाउन का चौथा चरण 18 मई से 31 मई तक होगा यानि 14 दिनों का होगा. इसके अलावा, दिल्ली सरकार लॉकडाउन को लेकर कल ऐलान करेगी.

पूरे देश में लॉकडाउन 4.0 के ऐलान के बाद गृह मंत्रालय की ओर से गाइडलाइंस जारी कर दी गई है. नई गाइडलाइन के मुताबिक, केंद्र ने कोरोना संक्रमित इलाकों के लिए 5 जोन तय करने का निर्देश दिया है. रेड, ग्रीन, ऑरेंज, बफर और कंटेनमेंट जोन राज्य सरकारें तय करेंगी. कंटेनमेंट जोन में केवल आवश्यक चीजों की सप्लाई की अनुमति होगी.

स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स और स्टेडियम बिना दर्शकों के साथ खोले जाएंगे. रेस्त्रा-मिठाई की दुकानें खुलेंगी, लेकिन सिर्फ होम डिलिवरी की अनुमति होगी. स्टैंड अलोन दुकान खोलने की भी अनुमति दी गई है. दुकान पर 5 लोग से ज्यादा काम नहीं कर सकेंगे. इंटर स्टेट बस सर्विस राज्य सरकारें स्थिति के मुताबिक शुरू कर सकती हैं.राज्य आपस में बातचीत करके इस पर फैसला कर सकते हैं. चलिए जानते हैं कि इस नए लॉक डाउन में क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा-

क्या खुलेगा –

  • -ऑनलाइन लर्निंग चलती रहेगी.
  • -स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स और स्टेडियम खुलेंगे, लेकिन कोई दर्शक नहीं होगा.
  • -स्टेडियम प्रेक्टिस के लिए खोले जाएंगे.
  • -सरकारी दफ्तर खुलेंगे.
  • -सरकारी कैंटीन चलती रहेगी.
  • – कंटेनमेंट जोन को छोड़कर बाकी जोन में एक राज्य से दूसरे राज्यों में आपसी सहमति से बसें जा पाएंगी.
  • -जितने भी रेस्टोरेंट हैं वो अब खाने की होम डिलिवरी कर सकते हैं. -शादी में 50 लोग ही शामिल हो सकते हैं.

क्या बंद रहेगा

  • -हवाई उड़ानें बंद रहेंगी.
  • -मेट्रो रेल सेवाएं बंद रहेंगी.
  • -स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे.
  • -होटल-रेस्तरां बंद रहेंगे.
  • -सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल, जिम पहले की तरह बंद रहेंगे.
  • -धार्मिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक आयोजनों पर पाबंदी जारी रहेगी.

राज्य तय करेंगे कौन सा इलाका किस जोन में होगा. स्वास्थ्य मंत्रालय के पैमानों के मुताबिक कौन सा इलाका किस जोन में होगा इसको लेकर राज्य सरकार फैसला लेगी और जो सरकार ने गाइडलाइंस जारी की है उसको मानने के लिए राज्य सरकार बाध्य है. इसके अलावा मोबाइल में आरोग्य सेतू एप होना जरूरी है.

दुकानों पर राज्य सरकार फैसला लेगी. केंद्र की गाइडलाइन में कहा गया है कि किस राज्य में कौन सी दुकानें खुलेंगी और कौन सी बंद रहेंगी इसको लेकर राज्य सरकार फैसला करेगी.

सैलून को लेकर सूत्रों के हवाले से खबर है कि अब इसको खोलने को लेकर फैसला राज्य सरकार कर सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Show Buttons
Hide Buttons
%d bloggers like this: