अमित शाह: इस देश में किसी को भी NPR से डरने की जरूरत नहीं, नहीं लगेगा डाउट का ‘D’

देश के कई राज्यों में नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर (NPR) का विरोध हो रहा है. ऐसे में गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को राज्यसभा में लोगों के डर को दूर करने की कोशिश करते हुए कहा कि NPR से डरने की कोई जरूरत नहीं है. इसमें कोई D नहीं लगेगा. बता दें कि यहां पर D का मतलब डाउटफुल है. दरअसल, अमित शाह दिल्ली हिंसा पर जवाब दे रहे थे. इस दौरान उन्होंने कहा कि हेट स्पीच caa आने के बाद शुरू हुआ. देशभर में मुस्लिम भाइयों के मन में ये भरा गया कि यह आपकी नागरिकता लेने वाला है. देशभर के मुसलमान भाइयों से कहना चाहता हूं कि caa नागरिकता नहीं लेने वाला है. ऐसा कोई प्रावधान नहीं है.

अमित शाह के बयान पर कांग्रेस सांसद कपिल सिब्बल ने कहा कि कोई यह नहीं कह रहा है कि सीएए से किसी की नागरिकता छिनेगी. जब एनपीआर होगा तो 10 सवाल और पूछे जाएंगे और फिर D यानी डाउटफुल लगा देगा. यह सिर्फ मुसलमान नहीं बल्कि गरीब लोगों की नागरिकता भी छीनेगा. कपिल सिब्बल के सवाल का जवाब देते हुए अमित शाह ने कहा कि मैं कितने भाषण quote कर सकता हूं सिब्बल साहब. आपकी पार्टी के कई नेताओं ने ऐसा बयान दिया कि CAA मुसलमानों के खिलाफ है.

अमित शाह ने कहा कि एनपीआर में कोई डॉक्यूमेंट नहीं मांगा जाएगा, जितनी सूचना आपको देना है दें. इसके लिए आप आजाद है. कोई भी D लगाने वाला नहीं है. इस देश में किसी को एनपीआर की प्रक्रिया से डरने की जरूरत नही है. कोई D नहीं लेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Show Buttons
Hide Buttons
%d bloggers like this: