यूपी के चित्रकूट में खनन ठेकेदारों ने बसाया ‘नरकलोक’, शुरू हुई मजिस्ट्रेट जांच

उत्तरप्रदेश के चित्रकूट की खदानों में काम के बदले यौन शोषण की रिपोर्ट एक निजी टीवी चैनल पर दिखाने के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया है. यहां चित्रकूट की खदानों में नाबालिग लड़कियों के साथ यौन शोषण की बात सामने आने के बाद आला-अफसरों ने इलाके में डेरा डाल लिया है और मामले की छानबीन में जुट गए हैं.

यह नरकलोक, दिल्ली से सैकड़ों किलोमीटर दूर बुंदेलखंड के चित्रकूट में स्थित है, जहां गरीबों की नाबालिग बेटियां खदानों में काम करने के लिए मजबूर हैं, लेकिन ठेकेदार और बिचौलिये उन्हें काम की मजदूरी नहीं देते. मजदूरी पाने के लिए इन बेटियों को करना पड़ता है अपने जिस्म का सौदा.

रिपोर्ट में दिखाया गया था कि ठेकेदार और बिचौलिये उन्हें काम की मजदूरी नहीं देते और मजदूरी के लिए इन लड़कियों के साथ यौन शोषण किया जाता है।रिपोर्ट दिखाने के चंद घंटे बाद ही मजदूरी के नाम पर बलात्कार के मामले में प्रशासन की नींद टूट गई. रिपोर्ट को दिखाए जाने के बाद मामले की मजिस्ट्रेटी जांच का आदेश दिया गया है. इसके अलावा डीएम से लेकर अन्य अफसर घटना स्थल पर पहुंचे और पीड़ितों से बात की.

चित्रकूट के डीएम ने ट्विटर पर लिखा, ‘अभी-अभी मैंने आजतक चैनल पर प्रसारित विशेष रिपोर्ट को देखा, वर्णित घटना क्रम की गहन जांच करने के लिए मजिस्ट्रेट जांच के आदेश कर दिए हैं। इस निंदनीय कृत्य मे जो भी दोषी पाया जाएगा उसके विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी तथा किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।’

इसके अलावा दिल्ली महिला आयोग की चेयरपर्सन स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर योगी आदित्यनाथ सरकार से मामले में तुरंत सख्त कार्रवाई करने की मांग की।

https://twitter.com/SwatiJaiHind/status/1280518581818712071

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Show Buttons
Hide Buttons
%d bloggers like this: