जानलेवा Pollution, दिल्ली-एनसीआर के सभी स्कूल बंद

दिल्ली और आसपास के जिलों के स्कूलों को pollution के स्तर में बढ़ोतरी के कारण अगले दो दिनों तक बंद रहने का आदेश दिया है।

नवंबर तक फरीदाबाद, गुरुग्राम, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, सोनीपत, पानीपत और बहादरगढ़ और भिवाड़ी में सभी कोयला और अन्य ईंधन आधारित उद्योग जो की प्राकृतिक गैस या कृषि-अवशेष (बिजली-संयंत्रों को छोड़कर) में स्थानांतरित है उन्हें को बंद रखने का आर्डर दिया है। दिल्ली के उद्योगों में, जो अभी तक PNG में शिफ्ट नहीं हुए हैं, 15 नवंबर तक बंद रहेंगे तथा बच्चो की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए EPCA ने निर्देश दिया है कि अगले दो दिनों तक सभी स्कूलों को बंद रखा जाएगा।

सूत्रों से यह भी पता चला है की नोएडा, गुरुग्राम और गाजियाबाद के स्कूल भी बंद रहेंगे।

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में हवा की गुणवत्ता पिछले महीने दिवाली के बाद खतरनाक स्तर तक बिगड़ गई थी। दिल्ली सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के जनादेश वाले पैनल को सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित करने के बाद सभी स्कूलों को चार दिनों के लिए बंद कर दिया था। वायु गुणवत्ता में सुधार के बाद स्कूलों को 5 नवंबर को फिर से खोल दिया गया था।

दिल्ली में pollution फिर से गंभीर स्तर पर पहुंच गया है, जिससे बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को पटकनी दे दी है।

अदालत का कहन है, “पूरा उत्तर भारत, NCR वायु प्रदूषण से पीड़ित है।”

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि वह शुक्रवार को समाप्त होने वाली ऑड-ईवन योजना का विस्तार कर सकते हैं।

केजरीवाल ने यह भी कहा, “हम ऑड-ईवन स्कीम के बारे में सोच रहे हैं, जरूरत पड़ने पर हम इसे बढ़ा सकते है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Show Buttons
Hide Buttons
%d bloggers like this: